जाने शहद के फायदे – Know the Benefits of Honey

0
656

शहद क्या है (what is Honey) –  शहद या मधु (Honey) रोजाना से रसोई (Kitchen) में उपयोग होने वाला एक स्वादिष्ट (Delicious) खाद्य पदार्थ रहा है, और यह सदियों (Centuries) से एक महत्वपूर्ण औषधि (Medicine) के रूप में भी उसका इस्तेमाल (Use) होता है। वैद्य (Vaidya) भी शहद (Honey) का औषधि (Medicine) के रूप में इस्तेमाल करते है भारत में शहद का आयुर्वेद चिकित्सा (Ayurvedic Medicine) में बहुत ही महत्व है आजकल चिकित्सा समुदाय (Medical Community) में शहद पर काफी वैज्ञानिक शोध (Scientific Research) चल रहा है शहद का इस्तेमाल प्राचीन काल  (Ancient Time) से होता चला आ रहा है। इसमें बहुत से पोषक तत्व (Nutrients) पाए जाते हैं जो हमारे स्वास्थ्य (Health) के लिए काफी फायदेमंद (Beneficial) होते हैं। आयुर्वेद में शहद का इस्तेमाल औषधि की तरह किया जाता है। शहद मधुमक्खियों (Bees) द्वारा फूलों के रस  (Flower Nectar) से बनाया गया एक तरल पदार्थ है। आयुर्वेद के अनुसार शहद में पाए जाने वाले औषधीय गुण कई बीमारियों (Diseases) से लड़ने में मदद करते हैं। शहद का नियमित सेवन करने से वजन घटाने (Reduce Weight) में भी मदद मिलती है। शहद हमारे शरीर की प्रतिरोधक क्षमता (Buffering Capacity) बढ़ाता है और दिल से जुड़ी बीमारियों (Heart Diseases) से बचाव करता है। शहद के सेवन (Honey Consumption)  से अनिद्रा (Insomnia), खाँसी (Cough), मधुमेह (Diabetes) और पेट संबंधी बीमारियों (Stomach Ailments) में भी आराम मिलता है। दुनिया में लोग मिठास (Sweetness) के लिए भी शहद का इस्तेमाल करते है| शहद का उपयोग आप किसी भी रुप में करें यह आपकी सेहत के लिए उतनी ही फायदेमंद है। बस इसके इस्तेमाल से पहले यह ज़रुर जांच लें कि उपयोग में लाया जा रहा शहद असली (Real) है या मिलावटी (Adulterated), क्योंकि मिलावटी शहद खाने से सेहत को कई नुकसान हो सकते हैं। शहद की क्वालिटी (Quality of Honey) को लेकर लोग हमेशा असमंजस (Confusion) में रहते हैं। आपकी जानकरी के लिए बता दें कि असली शहद काफी गाढ़ा होता है और पानी में डालने पर यह आसानी से नहीं घुलता (Dissolves) है बल्कि तली में जाकर जम जाता है जबकि नकली शहद पानी में जल्दी घुल जाता है। हालांकि शहद की शुद्धता जांचने का यह कोई निश्चित पैमाना नहीं है| आज के इस लेख में हम आपको बताएंगे कि शहद का सेवन करने से सेहत के लिए क्या क्या फायदे होते है|

पोषक तत्व (Nutrients) – शहद ज़रूरी पोषक तत्वों (Nutrients), खनिजों और विटामिन (Minerals and Vitamins) का भंडार है। शहद में मुख्य रुप में फ्रक्टोज (Fructose) पाया जाता है। इसके अलावा इसमें कार्बोहाइड्रेट (Carbohydrate), राइबोफ्लेविन (riboflavin), नायसिन (Nicene), विटामिन बी-6 (Vitamin B6), विटामिन सी (vitamin C) और एमिनो एसिड (Amino Acid) भी पाए जाते हैं। एक चम्मच (21 ग्राम) शहद में लगभग 64 कैलोरी और 17 ग्राम शुगर (फ्रक्टोज (Fructose), ग्लूकोज (Glucose), सुक्रोज (Sucrose) एवं माल्टोज (Maltose) होता है। शहद में फैट (Fat), फाइबर (Fiber) और प्रोटीन (Protein) बिल्कुल भी नहीं होता है।

 

औषधीय गुण (Medicinal Properties) – शहद के औषधीय गुणों की बात करें तो यह अनगिनत बीमारियों (Diseases) के इलाज (Treatment) में उपयोगी मानी जाती है। यही कारण है कि प्राचीन काल से ही शहद को औषधि माना गया है। आज के समय में मुख्य रुप से लोग त्वचा (Skin) में निखार लाने, पाचन ठीक रखने (Maintain Digestion), इम्युनिटी पॉवर बढ़ाने (Boost Immunity Power), वजन कम करने (Lose Weight) आदि के लिए शहद का उपयोग करते हैं। इसके अलावा शहद में एंटीबैक्टीरियल (Antibacterial) और एंटीसेप्टिक (Antiseptic) गुण होते हैं जिसकी वजह से घाव को भरने में या चोट से जल्दी आराम दिलाने में भी यह बहुत कारगर है।

शहद के फायदे (Benefits of Honey) – शहद (Honey) के फायदों को देखते हुए ही आयुर्वेद (Ayurveda) में इसे अमृत (Nectar) समान माना गया है। शहद खाने के तरीके को लेकर लोग असमंजस (Confusion) में रहते हैं। आप कई तरह से शहद का सेवन कर सकते हैं। छोटे बच्चों से लेकर वयस्कों तक शहद सभी के लिए उतनी ही फायदेमंद है। नियमित रुप से शहद खाने से रोग प्रतिरोधक (Immunity) क्षमता बढ़ती है जिससे कई तरह की संक्रामक बीमारियों (Infectious Diseases) से बचाव होता है। रोजाना (Daily) एक से दो चम्मच शहद सीधे तौर पर खा सकते हैं या इसे दूध (Milk) में इसे मिलाकर सेवन कर सकते हैं। इसके अलावा खाली पेट (Empty Stomach) हल्के गुनगुने पानी (Warm Water) के साथ शहद का सेवन वजन कम करने में बहुत उपयोगी माना जाता है। कुछ लोग हल्के गुनगुने पानी और शहद के मिश्रण (Honey Mix) में नींबू (Lemon) मिलाकर भी सेवन करते हैं। इसी तरह अगर आप शहद का इस्तेमाल त्वचा के निखार (Skin Glow) या बालों (Hairy) के लिए करना चाहते हैं शहद को एक एनर्जी फूड (Energy Food) माना जाता है। इसमें कार्बोहाइड्रेट्स (Carbohydrates), फ्रक्टोज (Fructose), ग्लूकोज (Glucose), आयरन (Iron), पोटैशियम (Potassium) और कैल्शियम (Calcium) जैसे कई पोषक तत्व (Nutrients) मौजूद होते हैं। शहद  में मौजूद ग्लूकोज (Glucose) शरीर में तुरंत एब्सोर्ब (Absorb) हो जाता है, जिससे बॉडी को तुरंत एनर्जी (Energy) मिलती है। शहद के सेवन से बॉडी को दिनभर के कामों के लिए एनर्जी मिलती है और थकान महसूस (Feel Tired) नहीं होती।

Honey set black hand drawn doodle Free Vector

खांसी में असरदार (Effective in Cough) शहद का इस्तेमाल खाँसी (Cough) ठीक करने के लिए दादी-नानी (Grandmother and Grandmother) के जमाने से होता आ रहा है। इसमें एंटी-बैक्टीरियल (Anti-Bacterial) और एंटीमाइक्रोबियल  (Antimicrobial) गुण मौजूद होते हैं जो इंफेक्शन (Infection) पैदा करने वाले बैक्टीरिया (Bacteria) से लड़कर खाँसी (Cough) में राहत पहुंचाते हैं। रोजाना 2 चम्मच शहद खाने से खांसी में आराम मिलता है। आप चाहें तो शहद को अदरक (Ginger) के साथ मिलाकर भी खा सकते हैं। इससे खाँसी (Cough) से जल्दी आराम (Rest) मिलेगा। गले की खांसी (Sore Throat)  को दूर करने में रात में एक चम्मच शहद (Honey) का सेवन बेहद उपयोगी है। शहद के अंदर एंटीबैक्टीरियल (Antibacterial) गुण मौजूद होते हैं जो न केवल कफ (Phlegm) को पतला करते हैं बल्कि कफ को पतला (Thin) कर बाहर निकलाते हैं। ऐसे में रात को सोने से पहले पानी में एक चम्मच शहद मिलाएं और उसका सेवन करें। अगर आपकी खांसी कई दिनों से ठीक नहीं हो रही है तो आप शहद का इस्तेमाल करें। यह खांसी से आराम दिलाने की असरदार घरेलू दवा (Home Medicine) है। अदरक और शहद (Ginger and Honey) से तैयार पेय भी खांसी (Cough) से आराम दिलाने में कारगर है।

दिल की बीमारी से बचाव (Heart Disease Prevention) – शहद में मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट्स (Anti-oxidants) दिल की बीमारियों (Heart Diseases) से सुरक्षा (Security) करते हैं। शहद का सेवन (Honey Consumption) करने से खून (Blood) में पॉलीफोनिक एंटीऑक्सीडेंट्स (Polyphonic Antioxidants) का लेवल बढ़ाता है, जिससे दिल से जुड़ी बीमारियों से बचाव होता है।

अनिद्रा की समस्या में फायदेमंद (Beneficial in the Problem of Insomnia) – अगर नींद (Sleep) नहीं आती, तो शहद (Honey) का सेवन आपके लिए फायदेमंद (Beneficial) साबित हो सकता है। हेल्थ एक्सपर्ट्स (Health Experts) के मुताबिक शहद के सेवन से बॉडी (Body) में सेरोटोनिन (Serotonin) नामक केमिकल (chemical) रिलीज होता है, जो मूड (Mood) को बेहतर बनाता है। हमारी बॉडी इस सेरोटोनिन कैमिकल (Serotonin Chemical) को मेलाटोनिन हॉर्मोन (Melatonin Hormone) में बदल देती है जिससे नींद अच्छी आती है। अगर आपको अनिद्रा की समस्या है या अच्छी नींद (Good Sleep) नहीं आती है तो रात को सोने से पहले एक गिलास गर्म दूध (Hot Milk) में शहद (Honey) मिलाकर पिएं। इससे अनिद्रा की समस्या (Insomnia Problem) दूर होगी और नींद अच्छी आएगी।

याददाश्त बढ़ाये (Boost Memory) – शहद न केवल दिमागी शक्ति (Mental Power)  और याददाश्त (Memory) बढ़ाता है बल्कि आपको पूरी तरह से एक स्वस्थ (Healthy) भी बनाता है। शहद का सेवन मेटाबोलिक स्ट्रेस (Metabolic Stress) को रोकता है और मस्तिष्क (Brain) को शांत (quiet) करने में मदद करता है, जिससे लंबे समय के लिए स्मृति (Commemoration) को बढ़ाने में मदद मिलती है। शहद में उपस्थित प्राकृतिक एंटीऑक्सीडेंट (Natural Antioxidants) और चिकित्सीय गुण (Therapeutic Properties) स्मृति को नुकसान (मेमोरी लॉस (Memory Loss)  को रोकते हैं) पहुंचाने वाली कोशिकाओं (Cells) को संचरित (Transmitted) करते हैं। बुढ़ापे (Old Age) में हमारे मानसिक स्वास्थ्य (Mental Health) को मजबूत (Strong) बनाने में मदद करते हैं। शहद एक प्राकृतिक स्वीटनर (Natural Sweetener) होता है और इसके कई स्वास्थ्य लाभ (Health Benefit) हैं, जिनमें मेमोरी/स्मृति और एकाग्रता (Concentration) को बढ़ावा देना शामिल है।

डैंड्रफ के लिए प्राकृतिक घरेलू उपचार (Natural Home Remedies for Dandruff) – बालों के लिए शहद कितना फायदेमंद हो सकता है? शहद रूसी के लिए सबसे अच्छे प्राकृतिक घरेलू उपचारों (Natural Home Remedies) में से एक है। यह न केवल रूखे बालों (Dry Hair) को पोषण (Nutrition) प्रदान करता है बल्कि यह आपके बालों को चिकने और मुलायम (Smooth and Soft) भी बनाता है। बालों को झड़ने (Hair Loss) से रोकने के लिए आप ग्रीन टी (Green Tea) के साथ शहद और लैवेंडर (Honey and Lavender) का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए शहद के 2 बड़े चम्मच को वनस्पति तेल (Vegetable Oil) के साथ बराबर मात्रा में मिलाएं और इसे अपने बालों पर लगाएं। इस हेयर मास्क (Hair Mask) को 15 मिनट तक लगा रहने दें, और फिर शैम्पू (Shampoo) करने से पहले इसे धो दें।

वजन कम करने में फायदेमंद (Beneficial in Reducing Weight) – शहद का इस्तेमाल मोटापा घटाने (Fat Loss) के लिए भी किया जाता है। यह तो आपने अक्सर (Often) देखा या सुना होगा कि जो लोग वजन कम (Lose Weight) करना चाहते हैं वह सुबह खाली पेट (Empty Stomach) गर्म पानी (Hot Water) में शहद (Honey) और नींबू (Lemon) डालकर पीते हैं। एक रिसर्च के मुताबिक शहद भूख को नियंत्रित (Control Appetite) करता है जिससे वजन कम करने में मदद मिलती है। शहद के सेवन से शरीर में कोलेस्ट्रॉल (Cholesterol) लेवल भी नियंत्रित रहता है। आप चाहें तो अपनी चाय (Tea), कॉफी (Coffee) या जूस (juice) में भी चीनी (Sugar) की जगह शहद (Honey) का इस्तेमाल कर सकते हैं, इससे शरीर से चर्बी (Fat) कम करने में मदद मिलेगी। एक रिसर्च (Research) में यह भी पाया गया है कि रात को सोने से पहले शहद का सेवन (Honey Consumption) करने से ज्यादा कैलोरी बर्न (Calorie Burn) होती हैं। अगर आप बढ़ते वजन (Increasing Weight) या मोटापे (Obesity) से परेशान हैं तो वजन को कम करने में शहद आपके बेहद काम आ सकता है। ऐसे में आप रात को सोने से पहले एक चम्मच शहद का सेवन गुनगुने पानी (Warm Water) के साथ करें। ऐसा करने से शरीर के मैं जमा अतिरिक्त चर्बी (Excess Fat) को दूर कर सकते हैं। इसके अलावा रात को सोने से पहले व्यक्ति शहद में नींबू (Lemon) की कुछ बूंदों को मिलाकर इसका सेवन कर सकता है। लेकिन व्यक्ति को शहद का सेवन रात के डिनर (Dinner) के 3 से 4 घंटे बाद करना होगा। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि शहद में वसा (Fat) बिल्कुल भी नहीं होता है। यह वजन को नियंत्रित रखने के साथ साथ शरीर के कोलेस्ट्रॉल लेवल (Cholesterol Level) को भी कम करती है। इसलिए नियमित रूप (Regularly) से शहद का सेवन करें।

यह भी पढ़े –  वजन कम करने के घरेलू उपाय – Home Remedies to Weight Loss

 

घाव भरने (Wound Healing) या चोट लगने (Getting Hurt) या कटने-जलने (Cuts and Burns) पर असरदार (Effective) – शहद में फ्लेवोनॉयड (Flavonoids), फेनोलिक एसिड (Phenolic Acid) और लैसोजाइम (Lysozyme) जैसे कई एंटीबैक्टीरियल (Antibacterial) और एंटी-इंफ्लेमेटरी (Anti-inflammatory) गुण मौजूद होते हैं जो घाव (Sore) को जल्दी ठीक करता है। सूजन (Swelling) को रोकते हैं और क्षतिग्रस्त ऊतकों और कोशिकाओं (damaged Tissues and Cells) की मरम्मत (Repair) करते हैं। इन्हीं गुणों की वजह से यह घाव (Sore) को जल्दी ठीक करने में मदद करती है। इसके साथ ही शहद में कई एंटीसेप्टिक गुण (Antiseptic Properties) भी पाए जाते हैं जो चोट लगने या जलने-काटने पर त्वचा को संक्रमण (Infection) से बचाता है और जली हुई त्वचा (Burnt Skin) को जल्दी ठीक करता है। घाव वाली जगह (Wound Site) या जले हुए हिस्से (Burnt Parts) पर सीधे शहद (Honey) लगाएं और अगर घाव में जलन (Wound Irritation) भी हो रही है तो शहद में गुलाबजल (Rose Water) मिलाकर सीधे प्रभावित हिस्से पर लगाएं।

पेट संबंधी समस्याओं से मिलती राहत  (Relief from Stomach Problems) – शहद का सेवन करने से पेट संबंधी समस्याओं (Stomach Problems) जैसे कब्ज (Constipation), गैस (Gas) और पेट फूलना (Abdominal Distension) आदि में आराम मिलता है। शहद शरीर में फ्रक्टोज के एब्सॉर्प्शन (Absorption of Fructose) को कम करता है और कब्ज और गैस जैसी पेट संबंधी समस्याों से आराम दिलाता है। रोजाना रात में सोने से पहले एक गिलास गुनगुने दूध में एक चम्मच शहद मिलाकर पीने से कब्ज से छुटकारा मिलता है।

मधुमेह को नियंत्रित करता है (Controls Diabetes) – शहद का सेवन करने से मधुमेह (Diabetes) को नियंत्रित करने में मदद मिलती है। एक रिसर्च में पाया गया है कि शहद में मौजूद एंटीडायबिटिक (Antidiabetic) और हाइपोग्लाइसेमिक (Hypoglycemic) गुण  खून में मौजूद ग्लूकोज (Glucose) के स्तर (Level) को कम करते हैं जिससे मधुमेह (Diabetes) कंट्रोल करने में मदद मिलती है। मधुमेह के मरीज (Diabetic Patients) डॉक्टर (Doctor) की सलाह से शहद (Honey) का नियमित सेवन दवा (Medicine) के तौर पर कर सकते हैं।

इम्यूनिटी रहेगी मजबूत (Immunity will be Strong) – शहद के अंदर एंटी ऑक्सीडेंट तत्व (Anti oxidant Ingredients) मौजूद होते हैं जो न केवल इम्यून सिस्टम (Immune System) को मजबूत करते हैं बल्कि संक्रमण (Infection) से भी छुटकारा दिलाते हैं। ऐसे में गुनगुने दूध (Lukewarm Milk) में एक चम्मच शहद (Honey) का सेवन रात को सोने से पहले करें। ऐसा करने से प्रतिरक्षा तंत्र (Immune System) मजबूत होता है।

यह भी पढ़े – प्रतिरक्षा तंत्र को हल्दी वाले दूध से करे मजबूत, जाने बनाने की विधि (Booster your Immune System with Haldi Milk (Turmeric Milk) – Recipe

त्वचा के लिए लाभदायक (Beneficial for Skin) – शहद के फायदे (Benefits of Honey) सिर्फ पाचन और इम्युनिटी (Digestion and Immunity) बढ़ाने तक ही सीमित नहीं है बल्कि यह त्वचा में निखार (Skin Rejuvenation) लाने में भी मदद करती है। शहद (Honey) में ऐसे गुण होते हैं जो आस पास की नमी (Damp) को सोख लेती है और त्वचा की नमी (Skin Moisture) को बरकरार (Intact) रखने में मदद करती है। जिन लोगों की त्वचा बहुत रुखी (Dry) होती है उन्हें अपनी त्वचा को नम बनाये रखने के लिए शहद का इस्तेमाल करना चाहिए। रात को सोने से पहले शहद खाने से भी चेहरे पर प्राकृतिक चमक (Natural Glow) आती है। साथ ही चेहरा खिला-खिला और रंग साफ महसूस होता है। त्वचा में निखार लाने के लिए इसे खाने की बजाय इसे त्वचा पर लगाया जाता है। त्वचा के लिए आप कई तरीकों से शहद का इस्तेमाल कर सकते हैं। यहां हम उपयोग की कुछ प्रमुख विधियाँ बता रहे हैं :

विधि –

१ – रुखी त्वचा वालों के लिए (for those with Dry Skin) : एक चम्मच शहद लें और इसे त्वचा के रुखे हिस्से (Rough Areas of Skin) पर लगाएं। 15-20 मिनट तक इसे सूखने (Drying out) दें और फिर ठंडे पानी (Cold Water) से धो लें। इसे एक हफ्ते में कम से कम तीन बार प्रयोग करें।

२ – त्वचा के निखार के लिए (for Skin Rejuvenation) : चेहरे की चमक (Face Glow) बढ़ाने के लिए आप शहद से तैयार फेसपैक (Face Pack) का इस्तेमाल करें। आमतौर पर शहद और नींबू (Honey and Lemon), शहद और दूध (Honey and Milk), शहद और केला (Honey and Banana) एवं शहद और योगर्ट (Honey and Yogurt) से तैयार फेसपैक ज्यादा फायदेमंद होते हैं।

बालों के लिए फायदे (Benefits for Hair) – शहद के अंदर कई पोषक तत्व (Nutrients) मौजूद होते हैं जो न केवल बालों की ग्रोथ (Hair Growth) बढ़ाते हैं बल्कि बालों को खराब (Damage Hair) होने से भी बचाते हैं। शहद के अंदर एंटीऑक्सीडेंट (Antioxidants) गुण मौजूद होते हैं जो बालों की कई समस्याओं से छुटकारा दिला सकते हैं। ऐसे में रात को सोने से पहले एक चम्मच शहद का सेवन बालों की समस्या (Hair Problem) को दूर करने में उपयोगी है। इसके अलावा शहद में दही (Curd), अंडा (egg), एलोवेरा (Aloe vera) आदि को मिलाकर बालों में लगा सकते हैं।

गले की खराश (Sore Throat) – गले की खराश को दूर करने में शहद आपके काम आ सकता है। ऐसे में अब रात को सोने से पहले एक चम्मच शहद का सेवन करें। इसके साथ-साथ आप अदरक का रस (Ginger Juice) भी मिला सकते हैं। ऐसा करने से न केवल खराश की समस्या दूर होगी बल्कि गले की समस्या (Throat Problem) से राहत मिलेगी।

कटने या जलने पर शहद के फायदे (Benefits of Honey on Cuts or Burns) – त्वचा के कटने-छिलने या जल जाने पर भी शहद का उपयोग करना बहुत लाभकारी (Beneficial) है। शहद में मौजूद एंटीसेप्टिक गुण (Antiseptic Properties) जले हुए हिस्से को जल्दी ठीक करते हैं और त्वचा को संक्रमण (Skin Infection) से भी बचाते हैं।

उपयोग विधि (Usage Method) : अगर आपकी त्वचा में हल्की खरोंच (Light Scratches) आ गयी है या कोई हिस्सा मामूली रूप से जल गया है तो उस हिस्से पर शहद लगाएं। यह जलन (Jealousy) को कम करती है और उस हिस्से में संक्रमण (infection) को रोकती है।

सेवन विधि (Intake Method) : रोजाना सुबह खाली पेट (Empty Stomach) एक गिलास हल्के गुनगुने पानी (Lukewarm Water) में एक चम्मच शहद मिलाकर उसका सेवन करें। इसे पीने के आधे से एक घंटे तक कुछ भी ना खाएं। आप इस मिश्रण में आधे नींबू (Lemon) का रस भी मिला सकते हैं।

कब्ज़ से राहत (Constipation Relief) – पेट (Abdomen) से जुड़ी कई समस्याओं की मूल जड़ कब्ज़ (Constipation) ही है। शहद शरीर में फ्रक्टोज (Fructose) के अवशोषण को कम करती है इस वजह से आप इसका उपयोग कब्ज़ (Constipation) को दूर करने में भी कर सकते हैं। कब्ज़ (Constipation) से आराम दिलाने के अलावा यह पेट फूलने (Flatulence) और गैस की समस्या (Gas Problem) से भी आराम दिलाती है। कब्ज़ से आराम पाने के लिए रोजाना रात में सोने से पहले एक गिलास हल्के गुनगुने दूध में एक चम्मच शहद (Honey) मिलाकर उसका सेवन करें।

मुहांसे की समस्या दूर करने में उपयोगी  (Useful in getting Rid of Acne) – मुहांसे की समस्या (Acne Problem) को दूर करने के लिए रात को खाया गया शहद (Honey) आपके काम आ सकता है। बता दें कि शहद के अंदर एंटीबैक्टीरियल (Antibacterial) गुण मौजूद होते हैं जो मुहांसे की समस्या (Acne Problem) से छुटकारा दिला सकते हैं। शहद में मौजूद जायलोज (Xylose) और सुक्रोज (Sucrose), वाटर एक्टिविटी (Water Activity) को कम करते हैं और बैक्टीरिया (Bacteria) को बढ़ने से रोकते हैं। इस वजह से शहद मुहांसे (Acne) दूर करने में काफी उपयोगी है। रात में सोने से पहले शहद की थोड़ी सी मात्रा लेकर सीधे मुंहासे (Acne) पर लगाएं और रात भर के लिए सूखने दें। अगली सुबह इसे ठंडे पानी (Cold Water) से धो लें।

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

Previous articleइन 20 टिप्स को अपनाकर पूरे दिन रहें सक्रिय (Stay active all day by adopting these 20 tips)
Next articleरूसी को ख़त्म करने के असरदार घरेलू उपाय – (Effective home remedies to get rid of Dandruff)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here